शिव पुराण के अनुसार पुत्र प्राप्ति के उपाय जो देंगे 100% सफल परिणाम

शिव पुराण के अनुसार पुत्र प्राप्ति के उपाय

हमारे पास कई दंपत्ति संतान प्राप्ति की समस्या को लेकर आते हैं और हम से जानना चाहते हैं कि क्या कोई ऐसा सरल उपाय है जिसे करने से मनचाही संतान की प्राप्ति हो सके, तो इसी विषय को लेकर आज हम आपको शिव पुराण के अनुसार पुत्र प्राप्ति के उपाय की संपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं, जिसमें हम आपको कुछ ऐसे सरल उपाय बताएंगे जिसमें देवों के देव महादेव की उपासना और आराधना करके आप पुत्र प्राप्त कर सकते हैं या मनचाही संतान का वरदान प्राप्त कर सकते हैं।

शादी के बाद हर नवविवाहित जोड़ा यह चाहता है कि उसे एक अच्छी संतान प्राप्त हो जिससे उसका वंश आगे बढ़े और मृत्यु के बाद उसे मोक्ष प्राप्त हो सके, पर कई बार मनुष्य की किस्मत और उसकी ग्रह दशा की वजह से उसे अच्छी संतान प्राप्त नहीं हो पाती है या वह संतान सुख से वंचित रह जाता है और अगर आप भी ऐसी परिस्थिति में है जहां पर आपको संतान सुख प्राप्त नहीं हो रहा है या मनचाही संतान प्राप्त नहीं हो रही है तो आज के हमारे दिए हुए इन सरल से उपाय को करके आप भगवान् शिव से वरदान के रूप में मनचाही संतान प्राप्त कर सकते हैं.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हमारे पौराणिक शास्त्रों में और शिव पुराण के अनुसार पुत्र प्राप्ति के कई ऐसे उपाय बताए गए हैं जिनका अगर सच्चे मन से उपयोग किया जाए तो नवविवाहित जोड़ा मनचाही संतान या पुत्र प्राप्त कर सकते हैं. आज के हमारे इस अध्याय में हम आपको कुल आठ ऐसे उपाय बताएंगे जिन्हें करके आप भगवान शिव से वरदान के रूप में एक अच्छी संतान या पुत्र प्राप्त कर सकते हैं।

शिव पुराण के अनुसार पुत्र प्राप्ति के उपाय

शिव पुराण के अनुसार पुत्र प्राप्ति के उपाय

हमारे शास्त्रों और ,शिव पुराण के अनुसार पुत्र प्राप्ति के लिए यह सबसे सरल और सटीक उपाय है, पर इस उपाय को करने से पहले एक बात का विशेष ध्यान रखें कि इस उपाय को पति पत्नी दोनों को साथ में करना है।

इस उपाय को आपको लगातार 11 सोमवार करना है और इसे करने के लिए 11 सोमवार आपको व्रत रखना होगा और शाम को सूर्य अस्त होने के बाद एक तांबे के लोटे में कच्चा दूध लेकर शिव मंदिर जाएं और पति पत्नी दोनों अपने हाथों से शिवलिंग का दूध से अभिषेक करें और उसके बाद 11 बेलपत्र शिवलिंग के ऊपर चढ़ाएं और शिवलिंग के सामने बैठकर सच्चे मन से 108 बार ॐ नमः शिवाय मंत्र का जाप करें और उसके पश्चात महादेव के सामने अपनी मनोकामना को प्रस्तुत करें।

जो भी पति पत्नी 11 सोमवार महादेव का व्रत करते हैं और उनका दूध से अभिषेक करके बेलपत्र चढ़ाते हैं उन्हें महादेव की विशेष कृपा प्राप्त होती है और मनचाही संतान का वरदान प्राप्त होता है।

पुत्र प्राप्ति का दूसरा उपाय

पुत्र प्राप्ति का दूसरा उपाय

शिव पुराण के अनुसार पुत्र प्राप्ति के लिए यह उपाय भी काफी सरल है और जो भी इसे सच्चे मन से करता है उसे भगवान महादेव की कृपा से पुत्र की प्राप्ति होती है पर इस उपाय को केवल महिलाएं ही करें।

पुत्र प्राप्ति के लिए इस उपाय को करने के लिए लगातार 21 सोमवार तक सुबह सूर्य उदय होने के बाद स्नान करके शुद्ध हो जाएं और शिव जी के मंदिर जाकर अपनी श्रद्धा और क्षमता के अनुसार महादेव शिव जी की पूजा अर्चना करें और उसके बाद मंदिर से निकलते समय दूध से बनी मिठाईयां या दूध की बर्फी छोटे बच्चों में बांट दें ऐसा लगातार 21 सोमवार तक करने से महादेव प्रसन्न होते हैं और उनके आशीर्वाद से पुत्र की प्राप्ति होती है।

मनचाही संतान या पुत्र प्राप्त करने का तीसरा उपाय

अगर आप भी संतान सुख से वंचित हैं और चाहते हैं कि शिव जी की कृपा से आपको एक अच्छी संतान प्राप्त हो तो इस उपाय को आपको जरूर अपनाना चाहिए।

इस उपाय को करने के लिए आपको लगातार 11 सोमवार तक 11 कन्याओं को अपने घर में भोजन कराना होगा और अगर आप ऐसी परिस्थिति में हैं जहां पर आप अपने घर में 11 कन्याओं को भोजन नहीं करा सकते हैं तो भी आपको निराश होने की आवश्यकता नहीं है आप लगातार 11 सोमवार तक किसी भी अनाथ आश्रम जाकर वहां पर बच्चों में भोजन वितरण कर सकते हैं. एक बात का विशेष ध्यान रखें कि जो भी भोजन आप बच्चों में बाटें वह अपने हाथों से ही बनाए उसे बाजार से ना खरीदें अन्यथा आप को इस उपाय का लाभ प्राप्त नहीं होगा।

शिव पुराण के अनुसार जो भी पति-पत्नी इस उपाय को सच्चे मन से करता है उसे शिव जी की कृपा प्राप्ति होती है।

शिव पुराण के अनुसार पुत्र प्राप्ति का चौथा उपाय

शिव पुराण के अनुसार पुत्र प्राप्ति का चौथा उपाय

जैसा कि आप सब में से कई लोग इस बात को जानते होंगे कि जिस प्रकार शिवलिंग की पूजा करने से शिव भगवान प्रसन्न होते हैं ठीक उसी प्रकार बेल वृक्ष की पूजा अर्चना करने से भी भगवान शिव अत्यंत ही प्रसन्न होते हैं और अगर आप भी पुत्र प्राप्ति की कामना करते हैं तो इस उपाय को आपको जरूर करना चाहिए।

भगवान शिव को प्रसन्न करके पुत्र प्राप्ति का वरदान प्राप्त करने के लिए हर सोमवार सूर्य अस्त होने के बाद बेल वृक्ष के नीचे 11 दिया जलाएं और ध्यान रखें कि दिए जलाने के लिए केवल घी का ही प्रयोग करें और दीए को जलाने के बाद बेल वृक्ष के तीन परिक्रमा करें और उसके बाद सच्चे मन से अपनी मनोकामना और प्रार्थना करें कुछ ही समय पश्चात आप देखेंगे कि आपकी मनोकामना पूर्ण होने लगी है।

मनचाही संतान प्राप्त करने का पांचवा सरल उपाय

मनचाही संतान प्राप्त करने का पांचवा सरल उपाय

पुत्र प्राप्ति के लिए यह उपाय भी काफी सरल है और आज भी गुजरात और उसके आसपास के प्रदेशों में इसे किया जाता है. इसे करने के लिए सर्वप्रथम गुरुवार के दिन अपने पूजा घर में लड्डू गोपाल की एक छोटी सी मूर्ति की स्थापना करें और उसके बाद लगातार 11 या 21 गुरुवार तक सुबह स्नान करके शुद्ध होने के बाद लड्डू गोपाल की सच्चे मन से पूजा अर्चना करें और उन्हें भोग में मिश्री, गुड़ और मक्खन का भोग लगाएं और उसके बाद जो पूजा समाप्त हो जाए तो पति-पत्नी इस भोग का सेवन करें।

जो भी दंपत्ति या पति पत्नी लड्डू गोपाल की पूजा अर्चना लगातार 11 या 21 गुरुवार तक करते हैं उन्हें पुत्र प्राप्ति का वरदान प्राप्त होता है।

पुत्र प्राप्ति का छठवां उपाय

पुत्र प्राप्ति का छठवां उपाय

पुत्र प्राप्ति के लिए उपाय भी अति उत्तम है पर एक बात का विशेष ध्यान रखें कि इस उपाय को केवल पुरुष ही करें, इसे करने के लिए सर्वप्रथम तीन मुखी रुद्राक्ष एक काले धागे में डालकर सोमवार के दिन शिव मंदिर जाएं और शिवलिंग की पूजा अर्चना करने के बाद उस रुद्राक्ष को अपने गले में धारण करें।

रुद्राक्ष धारण करने के बाद लगातार 11 सोमवार का व्रत रखें और शिव मंदिर जाकर पूजा अर्चना करें और मंदिर से निकलते समय अपनी क्षमता और श्रद्धा के अनुसार गरीबों में भोजन या पैसे बांट दें ऐसा करने से भी जल्द पुत्र प्राप्ति होती है।

पुत्र प्राप्ति का सातवां उपाय

पुत्र प्राप्ति का सातवां उपाय

हमारे पौराणिक शास्त्रों में पेड़ और वनस्पतियों को काफी महत्व दिया गया है क्योंकि इन में साक्षात ईश्वर का वास होता है और इसीलिए इनकी सेवा और पूजा अर्चना करने से भी मनुष्य को कई गुना अधिक लाभ प्राप्त होता है. शास्त्रों के अनुसार अगर आप भी संतान या पुत्र सुख से वंचित है और पुत्र प्राप्ति की मनोकामना रखते हैं तो आपको इस उपाय को जरूर करना चाहिए यह उपाय काफी सरल है और कोई भी आम इंसान इसे आसानी से कर सकता है।

इस उपाय को करने के लिए आप अपने आंगन में या किसी ऐसी सुरक्षित जगह में 11 आम, पीपल या नीम के वृक्ष का रोपण करें और एक बात का ध्यान रखें कि इन पेड़ों को अपने हाथों से ही लगाएं और जब तक यह पेड़ बड़े नहीं हो जाते तब तक इनकी देखभाल करें और इन्हें रोज पानी दें. सच्चे मन से इनकी देखभाल और सेवा करने से भगवान शिव प्रसन्न होते हैं और जल्द ही पुत्र या मनचाही संतान प्राप्त होने का आशीर्वाद देते हैं।

पुत्र प्राप्ति का आठवां उपाय

पुत्र प्राप्ति का आठवां उपाय

यह एक सरल तांत्रिक उपाय है जिसे पति पत्नी को दोनों साथ में ही करना है, इस उपाय को आपको लगातार तीन सोमवार तक करना है और इस उपाय को करने के लिए सोमवार को सूर्य अस्त होने के बाद सवा किलो गेहूं, सवा किलो काले तिल और 1 किलो गुड़ एक सफेद वस्त्र में बांधकर पति-पत्नी दोनों अपने हाथों से किसी बहते पानी में प्रवाह कर दें.

सफेद पोटली को प्रवाह करते समय अपनी मनोकामना को तीन बार बोलें और इसी प्रक्रिया को लगातार तीन सोमवार तक करें. अगर आप सच्चे मन से इस उपाय को करेंगे तो आपको लाभ जरूर प्राप्त होगा।

निष्कर्ष

आज के हमारे इस अध्याय में हमने आपको शिव पुराण के अनुसार पुत्र प्राप्ति के उपाय बताए हैं जिनका उपयोग आप अपनी श्रद्धा और क्षमता के अनुसार कर सकते हैं. एक बात का विशेष ध्यान रखें कि आज के इस अध्याय में हमने आपको जितने भी उपाय बताए हैं यह सारे पौराणिक उपाय हैं और सदियों से इनका उपयोग किया जा रहा है और जो भी पति-पत्नी सच्चे मन से इस उपाय को करते हैं उन्हें ईश्वर का वरदान और आशीर्वाद अवश्य प्राप्त होता है।

आज के हमारे इस अध्याय को समाप्त करने से पहले मैं आप सभी से एक बात का निवेदन करूंगा कि हम इस बात का बिल्कुल भी समर्थन नहीं करते हैं कि पुत्र प्राप्ति करना ही एक विवाहित जोड़े का लक्ष्य होना चाहिए आपको इस बात को समझना होगा कि पुत्र या पुत्री दोनों ही ईश्वर की कृपा से प्राप्त होते हैं और दोनों में ही ईश्वर का वास होता है इसलिए ईश्वर ने आपको जो भी वरदान दिया हो उसे सच्चे मन से स्वीकार करें और उनका पालन पोषण सच्चे मन से करें पर फिर भी अगर आपके मन में पुत्र प्राप्ति की कामना है तो हमारे द्वारा बताए गए उपायों का उपयोग करके आप लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

अगर हमारे आज के इस अध्याय को लेकर आपके कोई भी सवाल है तो आप निसंकोच होकर हमसे संपर्क कर सकते हैं. हम आपके सारे सवालों का जवाब जल्द से जल्द देने की पूरी कोशिश करेंगे।

जय महाकाल

परिवार में शांति के उपाय परिवार में प्रेम बढ़ाने के 08 चमत्कारी उपाय

लक्ष्मी प्राप्ति के घरेलू उपाय, 06 चमत्कारी उपाय और टोटके

हाय से बचने के उपाय, किसी की बुरी नजर, श्राप या बद्दुआ से बचने के उपाय

शीघ्र धन प्राप्ति के उपाय, अपार धन प्राप्त करने के 12 उपाय

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *