एक रोटी से शत्रु का नाश करने का तांत्रिक उपाय

एक रोटी से शत्रु का नाश

एक रोटी से शत्रु का नाश करने की संपूर्ण विधि और उपाय आज हम आपको इस अध्याय में बताने जा रहे हैं जिसका उपयोग अगर आप सही विधि से करते हैं तो यकीन मानिए आप अपने शत्रु का नाश करने में सक्षम हो पाएंगे। पर आज के अध्याय को शुरू करने से पहले मेरी आप सब से विनती है कि यह एक तांत्रिक टोटका है और इस क्रिया का उपयोग तभी करें जब आपका कोई शत्रु आपको काफी ज्यादा परेशान कर रहा हो जिसके कारण आपको काफी अधिक मानसिक और शारीरिक कष्टों का सामना करना पड़ रहा हो अन्यथा अगर आप किसी को बेवजह परेशान करने के लिए इन तांत्रिक क्रियाओं को उपयोग करेंगे तो इसके बुरे और नकारात्मक परिणाम आपको भी भोगने पड़ सकते हैं।

यह भी पढ़े :- सोया हुआ भाग्य जगाने के उपाय जो कभी असफल नहीं होते

आज के इस आधुनिक युग में हर इंसान शत्रु की समस्या से पीड़ित है यह एक ऐसी समस्या है जिसका अगर समय रहते समाधान ना निकाला गया तो परिस्थितियां काफी गंभीर हो जाती है। कई बार शत्रु की समस्या से पीड़ित व्यक्ति शारीरिक और मानसिक रूप से कमजोर हो जाता है और ऐसा व्यक्ति हमेशा डर और भय की जिंदगी जीने के लिए मजबूर हो जाता है।

यह भी पढ़े :- प्रेत बाधा से मुक्ति के उपाय और अचूक टोटके जो देते है 100% परिणाम

शत्रु की समस्या से छुटकारा पाने के लिए तांत्रिक शास्त्र में कई समाधान दिए गए हैं जिनका उपयोग आज भी भारत में किया जाता है और इस एक रोटी से शत्रु का नाश के उपाय की मदद से शत्रु की समस्या से हमेशा के लिए छुटकारा पाया जा सकता है।

शत्रु से छुटकारा पाने के तांत्रिक उपाय

रोटी से शत्रु का नाश करने की विधि काफी प्राचीन है और आज भी कई ग्रामीण क्षेत्र ऐसे हैं जहां पर इसका उपयोग करके शत्रुओं का नाश किया जाता है, भारत के कई ग्रामीण क्षेत्र ऐसे हैं जहां इसे टोटका भी कहा जाता है और यह काफी सफल टोटका है क्योंकि इस क्रिया को सिर्फ एक ही बार करने से ही आपका शत्रु का नाश निश्चित ही होता है।

अगर आपके जीवन में भी कोई ऐसा शत्रु है जो आपके कार्यस्थल, व्यापार, व्यवसाय मैं बाधा डाल रहा हो और जिसके कारण आपको काफी अधिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा हो तो हमारी आप को यही सलाह होगी की इस उपाय को एक बार जरूर आजमाएं और जो भी इंसान इस उपाय को सच्चे मन से करता है वह अपने शत्रुओं का नाश करने में सफल होता है।

एक रोटी से अपने शत्रु का नाश कैसे करें

क रोटी से अपने शत्रु का नाश कैसे करें

इस एक रोटी से शत्रु का नाश करने की क्रिया को करने से पहले एक बात का विशेष ध्यान रखें कि इसमें जिस रोटी का आपको इस्तेमाल करना है वह रोटी बासी होनी चाहिए यानी 1 या 2 दिन पुरानी, अगर आप ताजी रोटी का इस्तेमाल इस क्रिया में करेंगे तो आपकी क्रिया सफल नहीं होगी। इस क्रिया को करने के लिए आपको कुछ सामग्रियों की आवश्यकता पड़ेगी जो इस प्रकार है।

  1. एक बासी रोटी.
  2. थोड़ा सा सरसों का तेल.
  3. पूजा में उपयोग किए जाने वाला लाल सिंदूर.
  4. 11 सबूत लौंग.

एक बात का विशेष ध्यान रखें कि इस क्रिया को आपको केवल गुरुवार के दिन ही करना है और वह भी शाम 6:00 बजे के बाद, सबसे पहले किसी एकांत स्थान पर जाकर सरसों के तेल में पूजा में उपयोग किए जाने वाला लाल सिंदूर मिलाएं और अपनी अनामिका उंगली से रोटी के ऊपर अपने शत्रु का पूरा नाम लिखे।

रोटी के ऊपर अपने शत्रु का नाम लिखने के बाद उनके 11 लौंग को अपने दाहिने हाथ में रखकर मुट्ठी बांधले और अपने शत्रु का नाम 11 बार ले और फिर लौंग के ऊपर 11 बार फूंक मारकर इन लौंग को रोटी के ऊपर एक एक करके गाड़ दे। रोटी के ऊपर लौंग गाड़ने के बाद इस रोटी को रात को ही ले जाकर किसी चौराहे पर रख कर पीना पीछे मुड़े वापस घर आ जाए, कुछ ही दिन में आप देखेंगे कि आपको शत्रु आपको परेशान करना बंद कर देगा और आपसे दूर चला जाएगा।

और यदि अगर आप चाहते हैं कि आपका शत्रु काफी अधिक कष्ट भोगे और आपके शत्रु का नाश हो जाए तो इस रोटी को ले जाकर किसी जलती चिता के ऊपर फेंक दें, ऐसा करने से आपके शत्रु को काफी अधिक मानसिक और शारीरिक कष्टों का सामना करना पड़ेगा। मैं फिर से आप सब से यही विनती करूंगा कि इस उपाय को करने से पहले काफी सोच विचार करके ही इस उपाय को करें क्योंकि यह काफी प्रभावशाली और शक्तिशाली टोटका है जिससे व्यक्ति या शत्रु को काफी अधिक नुकसान और कष्ट पहुंचता है।

शत्रु का नाश करने का अचूक उपाय

अपने शत्रु का नाश करने के लिए यह टोटका भी काफी अचूक है और इसे आप किसी भी दिन कर सकते हैं। इसे करने के लिए सर्वप्रथम अपने शत्रु के दाहिने पैर की धूल इकट्ठा कर लीजिए पर ध्यान रहे आपके शत्रु को इस बात की जानकारी नहीं होनी चाहिए कि आपने उसके पैर की धूल ली है। उसके बाद एक पीले नींबू को बीच से आधा काटे और उस नींबू के बीच में अपने शत्रु के पैर की मिट्टी को डालें और उसके बाद नीचे दिए गए मंत्र का 51 बार जाप करें।

॥ ॐ ह्रीं सः सः शत्रु विनाशिनी कपट पहात स्वाहा ॥

मंत्र जाप समाप्त होने के बाद इस नींबू को ले जाकर किसी एकांत स्थान पर गड्ढा खोदकर गाड़ दें और ऊपर से मिट्टी डालने के बाद उस गड्ढे के ऊपर 3 बार थूकें और बिना पीछे मुड़े घर वापस आ जाए, यह काफी असरदार टोटका है अपने शत्रु का नाश करने के लिए अगर आप सही विधि से इस टोटके को करेंगे तो यकीन मानिए आपका शत्रु आपको जीवन में कभी परेशान नहीं करेगा और आपके शत्रु का नाश निश्चित रूप से होगा। प्रायः इस टोटके को करने के बाद 6 से 7 दिन के भीतर ही इसका असर दिखना शुरू हो जाता है पर फिर भी आपको कुछ दिनों में इसका असर ना दिखे तो इस टोटके को कम से कम 30 दिनों के पहले दोबारा ना करें।

फोटो से शत्रु का नाश

जिस प्रकार फोटो की मदद से किसी भी इंसान का वशीकरण करने में तांत्रिक क्रियाएं काफी सफल होती हैं ठीक उसी प्रकार फोटो की मदद से आप अपने शत्रु का नाश भी करने में सक्षम हो सकते हैं। यह काफी अधिक शक्तिशाली टोटका है शत्रु का नाश करने के लिए, इसलिए इसका इस्तेमाल करने से पहले सोच विचार करके ही इस्तेमाल करें इसे करने के लिए सर्वप्रथम आपको अपने शत्रु के फोटो की आवश्यकता पड़ेगी पर ध्यान रहे फोटो ज्यादा पुरानी ना हो।

इस टोटके को भी आप किसी भी दिन कर सकते हैं इसे करने के लिए सबसे पहले अपने शत्रु की फोटो अपने हाथ में लें और उस फोटो के पीछे नीचे दिए गए मंत्र को 108 बार लिखें ध्यान रहे की फोटो थोड़ी बड़ी होनी चाहिए तभी आप को मंत्रों को लिखने में आसानी होगी।

॥ ॐ मंम शत्रु नाशाय कुरु कुरु स्वाहा ॥

मंत्र को लिखने के बाद अपने शत्रु की फोटो को अपने हाथ में लेकर इसी मंत्र का 21 बार फिर से जाप करें और इस फोटो को तुरंत ले जाकर किसी गंदे नाले मैं फेंक दें। प्रायः ऐसा देखा गया है कि इस टोटके को एक बार करने में ही सफलता प्राप्त हो जाती है पर आपको अगर पहली बार में सफलता प्राप्त नहीं होती तो आप 10 से 15 दिन के बाद इस टोटके को दोबारा कर सकते हैं आपको सफलता जरूर प्राप्त होगी।

श्री हनुमान के आशीर्वाद से करें शत्रुओं का नाश

श्री हनुमान के आशीर्वाद से करें शत्रुओं का नाश

अगर हमारे द्वारा ऊपर बताए गए टोटकों को करने में आप असमर्थ है या आपको किसी प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है तो आपको चिंता करने की आवश्यकता नहीं है, अगर आप सबसे सरल उपाय करना चाहते हैं जिससे आपके शत्रुओं का नाश हो तो आप 11 मंगलवार या 11 शनिवार पास के हनुमान मंदिर जाएं और श्री हनुमान जी की पूजा अर्चना करने के बाद उन्हीं के सामने बैठकर हनुमान चालीसा का 3 पाठ करें और हनुमान जी को बेसन के लड्डू का भोग लगाएं जो भी इंसान सच्चे मन से 11 शनिवार या 11 मंगलवार हनुमान जी की उपासना करता है और उनके मंदिर में बैठकर हनुमान चालीसा का 3 पाठ करता है हनुमान जी के आशीर्वाद से उसके शत्रु का विनाश होना निश्चित होता है।

निष्कर्ष

तो यह थी एक रोटी से शत्रु का नाश करने के कुछ सरल विधि और टोटके जिनका उपयोग करके आप अपने जीवन में अपने शत्रुओं से छुटकारा पा सकते हैं और उनका नाश करने में सक्षम हो सकते हैं और जैसा कि मैंने पहले ही आप सब से विनती की थी कि किसी भी शत्रु नाशक टोटके को आजमाने से पहले कई बार विचार करें और बेवजह किसी व्यक्ति के ऊपर इन टोटकों का इस्तेमाल ना करें यह काफी असरदार और प्राचीन टोटके हैं जो देखने और सुनने में भले ही सरल लगते हैं पर इनका प्रभाव काफी अधिक शक्तिशाली होता है इसलिए जब तक आपको कोई शत्रु परेशान ना कर रहा हो जिससे आपको मानसिक और शारीरिक कष्टों का सामना करना पड़ रहा हो तब तक इन टोटकों का इस्तेमाल ना करें अन्यथा इसके दुष्परिणाम के जिम्मेदार आप खुद होंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published.