शत्रु दया की भीख मांगेगा इन टोटको से. shatru nashak totke

क्या आप किसी शत्रु से परेशान ? हैं क्या आप का शत्रु आपके हर कार्य में बाधा डालता है और अब अपने शत्रुओं से काफी भयभीत है और चाहते हैं उससे छुटकारा पाना तो आज हम आपके लिए कुछ ऐसे अचूक shatru nashak totke लेकर आए हैं जिनका इस्तेमाल अगर आप करेंगे तो आप का शत्रु आपको जीवन भर कभी परेशान नहीं करेगा और ना ही आपके रास्ते में दोबारा आएगा।

shatru nashak totke
shatru nashak totke

मित्र और शत्रु हर इंसान के जीवन में आते हैं, पर कई बार ऐसा होता है कि कुछ शत्रु इतने ज्यादा परेशान करने लग जाते हैं कि मनुष्य का जीवन नर्क के समान बदतर हो जाता है.

शत्रु के भय के वजह से मनुष्य हर समय डर, चिंता और अपने आप को असुरक्षित महसूस करने लगता है, अगर आप भी ऐसी स्थिति में हैं जहां आपको अपने किसी शत्रु से भय लगता है और आप चिंता में है तो अब आपको चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है नीचे दिए गए किसी भी एक अचूक शत्रु नाशक टोटके का इस्तेमाल करके आप अपने शत्रुओं का शमन आसानी से कर सकते हैं।

तो चले बिना समय व्यर्थ किए जान लेते हैं शत्रु नाशक टोटकों के बारे में.

यह भी पढ़े – बुरी किस्मत जाग जाएगी इस टोटके से

Shatru nashak totke की सफल विधि

Shatru nashak totke की सफल विधि
Shatru nashak totke की सफल विधि

अगर कोई शत्रु आपको अत्यधिक परेशान कर रहा है और आपके हर कार्य में बाधा डाल रहा है तो उसके लिए आप इस टोटके को अपना सकते हैं. इस टोटके को अगर आप सफलतापूर्वक करते हैं तो आपका शत्रु आपको फिर कभी परेशान नहीं करेगा और वह हमेशा आप से दूरी बनाकर रखेगा।

इस टोटके को करने के लिए सबसे पहले आपको एक मुट्ठी मेथी के दाने लेने हैं, एक ताजा पीला नींबू और एक कपूर का दाना।

इस टोटके को किसी सुनसान जगह में करना उचित होगा जहां पर आपको कोई ना देखें. अगर ऐसी कोई सुनसान जगह आपको मिल जाए तो वहां सबसे पहले एक मुट्ठी मेथी का दाना जमीन पर रखें उसके बाद उस नींबू के ऊपर अपने शत्रु का नाम लाल रंग की स्याही से लिखें। नाम लिखने के बाद उस नींबू को मेथी के दानों के ऊपर रखें और नींबू के ऊपर उस कपूर के एक दाने को रखें और उसे आग लगा दे। जब कपूर पूरी तरह से जल जाए तब अपने बाएं पैर से उस नींबू को अच्छी तरह से मसल दे और बिना पीछे मुड़े अपने घर वापस आ जाए। कुछ ही दिन में आप देखेंगे कि आपके शत्रु आपको परेशान करना बंद कर देगा ।

यह भी पढ़े – सरल काली मिर्च के टोटके

shatru nashak totke की सरल विधि

shatru nashak totke की सरल विधि
shatru nashak totke की सरल विधि

इस shatru nashak totke को आपके मंगलवार या शनिवार के दिन ही कर सकते हैं. इसे करने के लिए मंगलवार या शनिवार को शाम को सूर्य अस्त होने के बाद यानी शाम 6:00 बजे के बाद हनुमान जी के मंदिर जाएं और मंदिर में प्रवेश करने के पहले सौ का नोट के ऊपर अपने शत्रु का नाम लाल पेन से लिखे और इसे अपने सर के ऊपर से 21 बार वारे.

अब मंदिर के अंदर प्रवेश करें और हनुमान जी से प्रार्थना करें कि वह आपके शत्रु को आप से दूर करने में आपकी मदद करें और 100 के नोट को मंदिर के अंदर के दान की पेटी में डाल दें। आप यकीन नहीं करेंगे कुछ ही दिन में आप देखेंगे कि आपका शत्रु आपकी तरफ ध्यान देना बिल्कुल भी बंद कर देगा और आपको बिल्कुल भी परेशान नहीं करेगा।

यह भी पढ़े – Simple Totke for love marriage

शत्रु को हमेशा के लिए दूर करने का टोटका

अगर आप चाहते हैं कि आपका शत्रु आपके जिंदगी से दूर चला जाए और कभी भी पलट कर वापस ना आए तो इस टोटके को आप जरूर अपना के देखिएगा ।

इस टोटके को करने के लिए आपको अपने शत्रु के दाएं पैर की थोड़ी सी मिट्टी की जरूरत पड़ेगी. जब आपको अपने शत्रु की दाएं पैर की मिट्टी मिल जाए तो रविवार को रात 8:00 बजे के बाद 11 फूलदार लौंग लीजिए, लौंग लेते समय एक बात का ध्यान रखिएगा कि लौंग टूटे हुए ना हो और साबुत हो. 11 लौंग लेने के बाद उसे काले कपड़े के ऊपर रख दें और उसके ऊपर अपने शत्रु के दाएं पैर की मिट्टी को डालें। अब उस काले कपड़े को अच्छे से बांधकर किसी सुनसान जगह जाकर गड्ढा खोदकर गाड़ दे और उसके ऊपर से एक नींबू निचोड़ दें. नींबू निचोड़ते समय मन में ध्यान करें कि आपका शत्रु आपको छोड़कर हमेशा के लिए दूर चला जाए।

बस इस सरल विधि को करके देखिए आपका शत्रु कुछ ही दिनों में आपसे दूर हो जाएगा।

यह भी पढ़े – धन के अचूक टोटके

शक्तिशाली shatru nashak totke

यह एक अति शक्तिशाली टोटका है और इस टोटके में एक मंत्र की भी आवश्यकता पड़ेगी. इसे करने के लिए सबसे पहले एक चौकोर काला कपड़ा ले और उसके ऊपर लाल सिंदूर के घोल से नीचे दिए गए मंत्र को लिखें मंत्र के बीच में जहां अमुक शब्द लिखा है वहां पर अपने शत्रु का नाम लिखें.

॥ श्रीं श्रीं श्रीं (अमुक) उच्चाटन स्वाहा ॥

मंत्र लिखने के बाद उस कपड़े के ऊपर तीन बताशे रखें और बताशो के ऊपर थोड़ी सी सिंदूर डालें. अब इस काले कपड़े को अच्छे से बंद करके किसी छोटी लोहे के डब्बे में रख ले और इस डब्बे को किसी गंदे नाले या गटर में फेंक दें। यह अत्यंत ही शक्तिशाली shatru nashak totke है और प्रायः पहली बार में ही इस टोटके में सफलता मिल जाती है पर ध्यान रखें अगर आपको पहली बार में इस टोटके में सफलता नहीं मिलती तो 30 दिन के बाद ही दोबारा इस टोटके को करें।

शत्रु को भयभीत करने के लिए शत्रु नाशक टोटके

अगर आप चाहते हैं कि जिस तरह आपके शत्रु ने आपको कष्ट दिया था जिस वजह से आप परेशान रहते थे, और अब आपका शत्रु भी उसी तरह परेशान रहे तो आप इस टोटके की मदद ले सकते है.

यह टोटका काफी सरल है पर काफी असरदार है इस टोटके को करने के लिए सबसे पहले बाजार से एक भोजपत्र का टुकड़ा ले आए और उस भोजपत्र के टुकड़े के ऊपर लाल चंदन की मदद से अपने शत्रु का नाम अपनी अनामिका उंगली से लिखें नाम लिखने के बाद इस भोजपत्र के टुकड़े को किसी शहद के डब्बे में तब तक डालकर रखें जब तक आपका शत्रु आपसे परास्त नहीं हो जाता या आपको परेशान करना बंद नहीं कर देता.

यह अचूक shatru nashak totke है जो सदियों से उपयोग में किया जा रहा है। अगर आप सच में चाहते हैं कि आपका शत्रु भी आपकी तरह भयभीत रहे और डर की जिंदगी जिए तो इस अचूक टोटके को आजमा के देखिये।

शत्रु का भय दूर करने का टोटका

अगर आप चाहते हैं कि आपके मन से आपका शत्रु का भय हमेशा के लिए खत्म हो जाए और फिर कभी भी आप अपने शत्रु से भयभीत ना हो तो सबसे पहले एक चौकोर कोरा कागज लीजिए और उस कोरे कागज के ऊपर सरसों तेल की मदद से अपनी अनामिका उंगली से अपने शत्रु का नाम तीन बार लिखें।

नाम लिखने के बाद उस कागज को अपने सर के ऊपर से घड़ी की दिशा की ओर 21 बार वारे और उसके बाद उस कागज को जला दे। जब कागज अच्छी तरह से जल जाए तब उस कागज के राख को ले जाकर किसी चौराहे पर रख कर उस पर 3 बार थूके। अब बिना किसी से बात किये अपने घर वापस आ जाए 5 से 7 दिन के भीतर आप देखेंगे कि आपके मन में आपके शत्रु के लिए जो भी भय बैठा हुआ था वह पूरी तरह समाप्त हो जाएगा और फिर आप जिंदगी में कभी उस शत्रु से दोबारा भयभीत नहीं होंगे।

शत्रु को बेचैन करने का उपाय

यह भी एक बहुत ही प्राचीन उपाय हैं अपने शत्रु को बेचैन करने का और इसे करना भी काफी सरल है जब भी आप प्रातः काल शौच के लिए जाएं तो वहीं पर बैठे बैठे अपने शत्रु का नाम शौचालय के पानी की मदद से जमीन पर अपने दाएं हाथ से लिखें और शौच के बाद बाहर जाते समय अपने शत्रु के नाम के ऊपर अपने दाएं पैर से तीन बार लात मारे। इस टोटके को लगातार 7 दिनों तक करें अगर आप सफलता पूर्वक इस टोटके को लगातार 7 दिन तक करते हैं तो अब खुद ही देखेंगे कि आपका शत्रु आपकी तरफ ध्यान देना कम कर रहा है और विचलित और परेशान रहने लगा है।

शत्रुता खत्म करने के लिए शत्रु नाशक टोटके

इस टोटके को आप केवल शनिवार की रात को ही कर सकते हैं. इसे करने के लिए सबसे पहले आपको 51 चावल के दाने लेने हैं, चावल के दाने लेते समय एक बात का ध्यान रखें कि चावल के दाने एकदम साबुत हो और खंडित ना हो यानि टूटे हुए ना हो.

उसके बाद आपको 38 काले उड़द के दाल के दाने लेने हैं और इन दोनों को सबसे पहले ले जाकर किसी सुनसान जगह पर गड्ढा खोदकर डालें और उसके ऊपर एक नींबू निचोड़े, नींबू निचोड़ते समय लगातार अपने मन में अपने शत्रु का ध्यान करें कि वह अब आप से शत्रुता खत्म कर दे.

अब उसके बाद उन चावल और उड़द के दालों के ऊपर मिट्टी डालें और एक बार फिर से उस मिट्टी के ऊपर एक बार और नींबू निचोड़ दे। अगर यह टोटका सफलतापूर्वक कर लेते हैं तो आप देखेंगे कि आप का शत्रु आपसे मित्रता करने पर आतुर है। एक बात का ध्यान रखें कि अगर आपको पहली बार मैं इस टोटके में सफलता नहीं मिलती है तो इस टोटके को दोबारा करें आपको जरुर सफलता मिलेगी।

हनुमान चालीसा से शत्रु का नाश

आप सभी लोग तो जानते ही होंगे कि हनुमान जी का नाम संकट मोचन भी है, यानी संकट की हर घड़ी में हनुमान जी अपने भक्तों का साथ देते हैं अगर आप चाहते हैं कि आपका शत्रु आपको परेशान करना बंद कर दें और आप अन्य किसी टोटके को करने में असमर्थ हैं तो हर मंगलवार और शनिवार हनुमान जी के मंदिर जाएं और वहीं पर बैठकर हनुमान चालीसा का पाठ करें और हनुमान चालीसा का पाठ करने के बाद हनुमान जी से प्रार्थना करें कि वह आप के शत्रु से आपकी रक्षा करें उसके बाद हनुमान जी को बेसन के लड्डू का भोग लगाए. ऐसा 11 मंगलवार या 11 शनिवार तक लगातार करें आपको इसके शुभ परिणाम खुद ही दिख जाएंगे।

मोर पंख से शत्रु नाशक उपाय

अगर आप चाहते हैं कि आपका शत्रु आपके वश में हो जाए, तो यह काफी असरदार टोटका है इसे करने के लिए मंगलवार की शाम बाजार से एक मोर पंख लेकर आए और उस मोर पंख में अपने दुश्मन का नाम हनुमान जी के चरणों में लगे सिंदूर से लिखें. नाम लिखने के बाद इस मोर पंख को उसी मंगलवार को ले जाकर हनुमान जी के चरणों में अर्पित कर दे और वहां हनुमान जी से प्रार्थना करें कि आपके प्रार्थना स्वीकार करें और आप के शत्रु से आपकी रक्षा करें। अगर आप पूरी श्रद्धा और भक्ति से हनुमान जी की पूजा करेंगे और प्रार्थना करेंगे तो आप देखेंगे कि आपका शत्रु पूरी तरह से आपके वश में हो जाएगा।

जय महाकाल….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *